Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

शनिवार को देश के दक्षिण पश्चिमी इलाके के कई शहरों में हवा की गुणवत्ता बहुत खराब कैटेगरी में दर्ज की गई है। दिल्ली में शनिवार को एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 324 दर्ज किया गया है, जो बहुत खराब कैटेगरी में आता है। इसके अलावा फरीदाबाद, गुरुग्राम और नोेएडा में भी खराब गुणवत्ता वाली हवा दर्ज की गई।

एक मध्यम तीव्रता वाले पश्चिमी विक्षोभ के कारण साल के अंत में एक बार फिर न्यूनतम तापमान में भारी गिरावट की संभावना है। हालांंकि अगले तीन दिन यानी 25-27 दिसंबर तक न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की वृद्धि हो सकती है।

राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक आरके जेनामनी का कहना है कि 28 दिसंबर के बाद न्यूनतम तापमान में तीन से पांच डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की जा सकती है। दिसंबर के अंत से लेकर जनवरी की शुरुआत में बहुत ज्यादा ठंड पड़ने की संभावना है।

पश्चिमी विक्षोभ के कारण 27 दिसंबर से हवा की गुणवत्ता और बिगड़ने की संभावना है। भारतीय मौसम विभाग के हवा गुणवत्ता प्रबंध डिविजन के वैज्ञानिक वीके सोनी का कहना है कि शुक्रवार को हवा की गति 10-15 किलोमीटर प्रति घंटा बढ़ी, जिससे हवा की गुणवत्ता में सुधार हुआ, लेकिन 27-28 दिसंबर को एक्यूआई में बदलाव हो सकता है और हवा की गुणवत्ता खराब से बहुत खराब कैटेगरी में आ सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here