Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

दिल्ली में बीते 24 घंटे में 29,821 सैंपल की जांच हुई है। इनमें से 12.73 फीसदी सैंपल संक्रमित मिले। वहीं, 3560 मरीजों को डिस्चॉर्ज किया गया है। बीते 10 दिन में कोरोना वायरस से मृत्युदर भी बढ़कर 1.35 फीसदी तक पहुंच चुकी है। फिलहाल राजधानी में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 4,89,202 हो चुकी है। इनमें से 4,41,361 मरीज डिस्चॉर्ज हो चुके हैं।

वहीं संक्रमण की वजह से 7713 लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली में अभी कोरोना वायरस  से मृत्युदर 1.58 फीसदी है, जबकि संक्रमण दर 8.93 फीसदी है। फिलहाल राजधानी में सक्रिय मरीजों की संख्या  40,128 है। इनमें से 26533 सक्रिय मरीज होम आइसोलेशन पर हैं.

दिल्ली में स्थिति यह है कि इस माह में हर चार घंटे में लोगों की कोरोना वायरस के चलते मौत हो रही है। आंकड़ों के अनुसार एक दिन पहले दिल्ली में 95 लोगों की संक्रमण की चपेट में आने के बाद मौत हुई है। दिल्ली में एक दिन में यह तीसरा सबसे बड़ा मौत का आंकड़ा है। वहीं पिछले 15 दिन में अब तक दिल्ली में 1103 लोगों की मौत हो चुकी है। इस दौरान रोजाना दिल्ली में 73.5 लोगों की मौत हुई है। यानि हर घंटे तीन से चार लोग कोरोना वायरस की वजह से अपनी जान गंवा रहे हैं।

पिछले गुरुवार को दिल्ली में सबसे ज्यादा 104 लोगों की उपचार के दौरान मौत हुई थी। लोगों को डरा देने वाले यह आंकड़ें अभी भी कोरोना वायरस के प्रति सतर्कता बरतने की ओर इशारा कर रहे हैं। तीसरा पीक आने से पहले दिल्ली में रोजाना संक्रमित मरीज सामने आ रहे थे। इसी बीच त्योहार के चलते बाजारों में लोगों की भीड़ भी देखने को मिली। लोगों के व्यवहार को देख लगने लगा कि संक्रमण से अब उन्हें कोई खतरा नहीं है लेकिन फिलहाल के आंकड़ें बताते हैं कि कोरोना वायरस की लड़ाई अभी खत्म नहीं हुई है। लोगों को पहले से और भी ज्यादा सतर्क रहने की आवश्यकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here