Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

गूगल ने आज एक खास डूडल बनाया है। इसे गूगल ने अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के साथ मिलकर बनाया है। यह एनीमेटिड डूडल शीतकालीन संक्रांति का जश्न मना रहा है। इसमें सुझाव दिया गया है कि आज आप अपनी आंखे आसमान से शनि और बृहस्पति के वर्तमान महान संयोजन पर बनाए रखें।

आज रात शनि और बृहस्पति एक दूसरे के एक डिग्री के भीतर होंगे। यह महान संयोजन लगभग 20 साल में एक बार होता है। पिछली बार यह घटना आकाश से आसानी से दिखाई दे रही थी जैसा कि इस शीतकालीन संक्रांति में भी होगा। ऐसा लगभग 800 साल पहले हुआ था। उत्तरी गोलार्ध पृथ्वी का आधा उत्तरी भाग है। यह जीरो डिग्री भूमध्य रेखा पर शुरू होता है और उत्तर तक जारी रहता है।

बता दें कि खगोलीय घटनाओं में रुचि रखने वाले वाले लोगों के लिए आज का दिन बेहद खास होने वाला है। साल की सबसे लंबी रात पर उन्हें करीब 400 सालों में घटित होने वाली अनूठी खगोलीय घटना का गवाह होने का मौका मिलेगा जब हमारे सौर मंडल के सबसे बड़े ग्रह बृहस्पति और शनि एक दूसरे के बेहद करीब आ जाएंगे। पिछली बार ये खगोलीय घटना महान खगोलविद गैलिलियो काल में वर्ष 1623 में घटित हुई थी। दोबारा ये घटना 24वीं शताब्दी में होगी।

गूगल डूडल में महान संयोजन को कार्टून के तौर पर दिखाया गया है। इसमें शनि और बृहस्पति हाई फाइव (ताली बजाने) के लिए मिलते हैं। वहीं पृथ्वी अन्य दो ग्रहों को देखती है। शीतकालीन संक्रांति का मतलब है बर्फ से ढका हुआ। सोमवार को संक्रांति पृथ्वी की सूर्य से बदलती दूरी के कारण होगा।

इस साल 21 दिसंबर को उत्तरी गोलार्ध में शीतकालीन संक्राति की शुरुआत हुई है और 2020 की सबसे लंबी रात में एक अविश्वसनीय खगोलीय घटना भी होगी जिसे महान संयोजन के तौर पर जाना जाता है। इस महान संयोजन में शनि और बृहस्पति का एक दृश्य ओवरलैप है जो रात में दिखाई देगा। शनि और बृहस्पति हमारे सौर मंडल के सबसे बड़े दो ग्रह हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here