Bhojpur
Disha Bhoomi

मुरादनगर थाना भोजपुर में ऑक्सीजन सिलेंडर का उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा प्लांट शुरू हुआ है. कोविड 19 के इस संकट काल में कोरोना के मरीजों के लिए वेंटिलेटर के साथ ऑक्सीजन की आपूर्ति को पूरा करने के लिए गाजियाबाद में एक ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना की गई है। इस प्लांट से न केवल गाजियाबाद बल्कि पूरे प्रदेश एवम् आस पास के राज्यो के लिए ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाएगी।

यह प्लांट अपनी पूरी क्षमता के साथ तकरीबन 17 हजार ऑक्सीजन सिलेंडर का उत्पादन करेगा जोकि अपने आप में एक बड़ा उत्पादन केंद्र है अब तक पूरे उत्तर प्रदेश में इतनी बड़ी क्षमता का प्लांट स्थापित नहीं था। यह एक उच्च श्रेणी का संयंत्र है जिसको की चार अलग-अलग मोड में संचालित किया जा सकता है डिजाइन कैपेसिटी मोड में संचालित करने पर जहां 149 टन ऑक्सीजन का उत्पादन होगा वही इकाई को ऑक्सीजन मोड में संचालित करने पर 170 टन ऑक्सीजन का उत्पादन होगा।यह प्लांट लखनऊ में प्रदेश सरकार द्वारा हुई इन्वेस्टर सम्मिट का नतीजा है वहीं पर सरकार और अमेरिकन कंपनी के बीच यह एमओयू साइन हुआ था उसी के आधार पर इस इकाई में लगभग 110 करोड़ की पूंजी का निवेश किया गया है। कोरोना के इस काल में यह इकाई प्रारंभ होने से जनपद सहित पूरे उत्तर प्रदेश एवं आसपास के प्रदेशों में ऑक्सीजन की उपलब्धता से बहुत बड़ी राहत मिलेगा।

गाजियाबाद में उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा ऑक्सीजन प्लांट शुरू होने वाला है। इनॉक्स एयर कंपनी और उत्तर प्रदेश सरकार के साथ 50% की पार्टनरशिप में एक एमओयू साइन किया था उसी के संदर्भ में 2019 में इस प्लांट का निर्माण कार्य शुरू हुआ था जो कि इस माह के अंत तक पूरा हो जाएगा। गाजियाबाद में अभी तक इतना बड़ा ऑक्सीजन प्लांट नहीं था यह प्लांट तकरीबन 15000 सिलेंडर प्रतिदिन उत्पादन करेगा। रोजगार की दृष्टि से भी यह गाजियाबाद के लिए एक बड़ी उपलब्ध यह तकरीबन 130 करोड़ की लागत से बना ऑक्सीजन प्लांट है जिसमें कि हम तकरीबन 15 से 17000 सिलेंडर प्रतिदिन उत्पादन कर सकेंगे।

हम इसमें डिजाइन मोड में 150 तन तक उत्पादन कर सकते हैं और इस उत्पादन क्षमता को हम 170 टन तक बढ़ा सकते हैं। जो की इस कोविड की महादशा के लिए बहुत जरूरी है। हमने लखनऊ में हुई इन्वेस्टर सम्मिट में एक एमओयू साइन किया था उसी के आधार पर इस प्लांट की स्थापना हुई है। यहां से हम लोग पूरे प्रदेश के साथ-साथ आसपास के राज्यों में भी ऑक्सीजन की सप्लाई दे सकेंगे। उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा हर संभव सहायता इस प्लांट को लगाने के लिए हमें प्राप्त किए इसके लिए हम प्रदेश सरकार का धन्यवाद करते है। यह हमारे गाजियाबाद का सौभाग्य है कि यहां इतना बड़ा ऑक्सीजन प्लांट लगने जा रहा है। और इससे इस covid19 के संकट की घड़ी में यह वरदान सिद्ध होगा। हमारे यहां तकरीबन 350 से 400 तक ऑक्सीजन सलेंडर की रोजाना खपत है। यह सितंबर के अंत तक पूरी तरह से कार्य करने लगेगा। यह प्लांट गाजियाबाद के साथ साथ पूरे उत्तरप्रदेश एवं आस पास के राज्यो को ऑक्सीजन की पूर्ति करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here