Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

विश्व के सभी ग्रन्थों में यदि किसी ग्रन्थ के उपलक्ष्य में हम सभी के द्वारा किसी भी जयंती का आयोजन किया जाता है तो वह जयंती है गीता जयंती ।

गीता जयंती के इस पावन उपलक्ष्य पर आज दिनांक 25-12-2020 शुक्रवार को गीता जयंती के शुभ अवसर पर मोदीनगर के हरमुखपुरी स्थित गणेश मंदिर पर संस्कृतभारती संगठन द्वारा श्रीमद्भगवत् गीता का पारायण किया गया. हमारे आधुनिक जीवन में गीता की आवश्यकता महत्व और उसकी वैज्ञानिकता से कार्यक्रम के मुख्यवक्ता और संस्कृतभारती मोदीनगर के नगरसंयोजक श्री गोपालकौशिक जी ने सभी को अवगत कराया और उसे अपने व्यावहारिक जीवन में लाने के लिए सभी को प्रेरित भी किया ।

Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रुप में श्रीमती कुसुम सोनी जी , रानी लक्ष्मीबाई फाउण्डेशन की अध्यक्ष द्वारा भी सभी का मार्गदर्शन किया गया और सभी से सनातनधर्म के ग्रंथों को पढ़ने और संस्कृतभाषा को सीखने का आग्रह किया गया ।

संस्कृतभारती मोदीनगर के विद्यालयसम्पर्कप्रमुख श्री मनीषकुमारमिश्र जी द्वारा भी सभी को सम्बोधित किया गया । उन्होंने आधुनिक समाज की वास्तविकता से परिचय कराते हुए बताया कि कैसे आज-कल के बच्चों को श्री कृष्ण और श्री राम के विषय में भी जानकारी नहीं है । यह बहुत ही विचारणीय और दुःखद विषय है । यदि हम बच्चों का उज्ज्वल भविष्य चाहते हैं तो हमें उन्हें संस्कृत सिखानी ही होगी ।

Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

कार्यक्रम का मञ्चसञ्चालन संस्कृतभारती गाजियाबाद के प्रचार प्रमुख और साप्ताहिककक्षाप्रमुख श्री सचिन शर्मा द्वारा किया गया । कार्यक्रम की रूपरेखा और आयोजन संस्कृतभारती मोदीनगर के नगरसम्पर्कप्रमुख श्री उदय चन्द्र झा महोदय द्वारा किया गया ।

कार्यक्रम में संस्कृतभारती के कार्यकर्ता शालिनी , कीर्ति , दीपिकाशर्मा , गोपाल , आशुतोष , सोमेशशर्मा , सुधीरसोनी , प्रभाकरशर्मा आदि उपस्थित रहें ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here