Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

देश के लिए मेरठ का एक और बेटा शहीद हो गया। गढ़ रोड स्थित सिसौली गांव के हवलदार अनिल तोमर जम्मू-कश्मीर के शोपियां में एक आपरेशन में शहीद हो गए। उनका पार्थिव शरीर आज गांव लाया जाएगा।

सोमवार दोपहर आर्मी के अफसरों ने फोन कर जानकारी दी कि अनिल शहीद हो गए हैं। जवान बेटे की शहादत की खबर मिलने के बाद परिजनों पर गम का पहाड़ टूट पड़ा। अनिल के भाई भी सेना में हैं। वे कश्मीर पहुंच गए हैं। परिवार में पिता भोपाल सिंह तोमर, माता कुसुम, पत्नी मीनू तोमर, 14 साल की बेटी तान्या और आठ साल का बेटा है। पूरे गांव में शोक छा गया है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

सेना की 23 राजपूत यूनिट के हवलदार अनिल कुमार तोमर वर्तमान में 44वीं आरआर राइफल्स में जम्मू-कश्मीर के शोपियां में घातक प्लाटून में तैनात थे। परिजनों के मुताबिक 25 दिसंबर की रात को वे अपनी प्लाटून के साथ विशेष ऑपरेशन पर थे। आतंकियों ने अचानक गोलीबारी कर दी। मुठभेड़ में उनको कई गोलियां लगीं। उन्हें श्रीनगर के अस्पताल में भर्ती कराया गया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद जवान अनिल तोमर के शौर्य और वीरता को नमन करते हुए उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी है। मुख्यमंत्री ने शहीद के परिजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है। शहीद के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने तथा जिले की एक सड़क का नामकरण शहीद अनिल तोमर के नाम पर करने की भी घोषणा की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here