Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। वह आए दिन जम्मू-कश्मीर के सीमावर्ती इलाकों में संघर्ष विराम का उल्लंघन कर दहशत फैलाने में जुटा है। शुक्रवार को संघ शासित प्रदेश के राजौरी जिले के सुंदरबनी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास पाक सेना ने गोलाबारी की। इसमें दो जवान शहीद हो गए।

प्रेम बहादुर खत्री और सुखबीर सिंह, दोनों की देश के वीर बेटे और सजग व साहसी सैनिक थे। देश की रक्षा करते हुए उन्होंने जो बलिदान दिया है, उसके लिए देशवासी हमेशा उनके ऋणी रहेंगे।

गुरुवार को भी किया गया था संघर्ष विराम का उल्लंघन

गुरुवार को भी पाकिस्तान ने संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था। कीरनी, कस्बा, दिगवार, माल्टी और दलान सेक्टर में सैन्य चौकियों और रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर पाकिस्तानी सेना ने हल्के और बड़े हथियारों से भारी गोलाबारी की थी। गोलाबारी से कीरनी सेक्टर में जेसीओ सूबेदार स्वतंत्र सिंह (16 गढ़वाल) और एक नागरिक गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

घायल जेसीओ को एयरलिफ्ट कर कमान अस्पताल उधमपुर पहुंचाया गया था, जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। वहीं, ग्रामीण को परिजनों एवं पड़ोसियों ने चारपाई पर उठाकर कई किलोमीटर पैदल सड़क तक पहुंचाने के बाद एंबुलेंस से राजा सुख देव सिंह जिला अस्पताल पहुंचाया गया। घायल की पहचान मोहम्मद रशीद (50) के रूप में हुई थी।

श्रीनगर में हुआ था आतंकी हमला

आज से पहले गुरुवार को मुंबई हमले की 12वीं बरसी के मौके पर भी जम्मू-कश्मीर में तनाव का माहौल था। कल आतंकियों ने श्रीनगर के बाहरी इलाके एचएमटी में सुरक्षा बलों पर एक बड़ा हमला कर दिया था। हमले में दो जवान शहीद हो गए थे।

कॉमबेट ड्रेस पहने तीन दहशतगर्द मौके पर पहुंचे और सेना के जवानों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी। घायल दोनों जवानों को शरीफाबाद स्थित सैन्य शिविर में ले जाया गया जहां दोनों की मौत हो गई थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here