Disha bhoomi

लोनी : अशोक विहार कालोनी निवासी हरजीत ने बताया कि करीब साढे़ तीन वर्ष पूर्व उसने मिली नाम की महिला से शादी कर ली थी। आठ दिन पूर्व पत्नी मिली ने बाथरूम में दुपट्टे से फांसी लगा ली थी। उन्होंने पड़ोसियों की मदद से दरवाजा तोड़कर पत्नी को दिल्ली के जग प्रवेश हास्पिटल में भर्ती कराया था। जहां डॉक्टर ने जांच के बाद उन्हें मृत घोषित कर शव को पोस्टमार्टम के लिए जीटीबी अस्पताल भेज दिया था। उन्होंने बताया कि स्थानीय पुलिस द्वारा शव का पंचनामा न भरने से उनकी पत्नी का आठ दिनों तक पोस्टमार्टम नहीं हो सका है। उपजिलाधिकारी खालिद अंजुम ने बताया कि मामला उनके जानकारी में आया है। उन्होंने बताया कि जहां व्यक्ति की मृत्यु होती है वहीं की पुलिस और प्रशासन द्वारा पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम कराया जाता है। लेकिन दिल्ली के उपजिलाधिकारी ने उन्हें पत्र लिखकर पंचनामा भरवाने की बात कही है। उन्होंने बताया कि मामले में क्षेत्राधिकारी से रिपोर्ट लेकर तहसीलदार को दिल्ली भेजकर पंचनामा भरने के निर्देश दिए हैं। जिससे शव का पोस्टमार्टम हो और उसके पति को शव मिल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here