Disha bhoomi

गाजियाबाद : कविनगर थानाक्षेत्र में पति द्वारा एक साल की बेटी को पत्नी से छीनकर ले जाने का मामला सामने आया है। शास्त्रीनगर निवासी पीडि़ता विनीता शर्मा का कहना है कि रुपयों की मांग पूरी न करने पर पति ने ऐसा किया। 9 महीने से पति ने उनकी बेटी की शक्ल तक नहीं दिखाई है। पीडि़ता की गुहार पर एसएसपी ने कार्रवाई के आदेश दिए, जिसके बाद कविनगर पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।

विनीता शर्मा का कहना है कि नवंबर 2015 में उनकी शादी कोटद्वार उत्तराखंड निवासी मनोज कुकरेती के साथ हुई थी। मनोज वहां आटा चक्की चलाता है। शादी से पहले से ही वह एक हॉस्पिटल में स्टाफ नर्स की नौकरी करती आ रही है। शादी के बाद उन्होंने दिसंबर 2018 में एक बेटी को जन्म दिया। विनीता का कहना है कि शादी के बाद से ही वह हर महीने 5 हजार रुपये पति के पास भेजती थीं। क्योंकि पति ने कहा था कि उसकी मां हर महीने 5 हजार रुपये की कमेटी डालती है। आरोप है कि पति बीच-बीच में आकर भी 10-5 हजार रुपये लेकर जाता था। वह ज्यादा पैसे देने का दबाव डालने लगा तो उन्होंने 2017 से उसे पैसे देने बंद कर दिए। विनीता का आरोप है कि इस बात से नाराज होकर उनका पति उनसे मिलने के बहाने आया और एक साल एक माह की बेटी को लेकर कोटद्वार भाग गया। पीडि़ता का कहना है कि 9 महीनों से पति बेटी को वापस नहीं कर रहा है। इसके अलावा उनका सारा स्त्रीधन पति के कब्जे में है। पीडि़ता ने एसएसपी से कार्रवाई की गुहार लगाई। एसएसपी के आदेश पर कविनगर पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here