Disha bhoomi

गाजियाबाद : कविनगर थानाक्षेत्र के महिंद्रा एनक्लेव में दरोगा राजकुमार के निर्माणाधीन मकान से गिरकर 25 वर्षीय मजदूर गोपाल निवासी बड़ा बांस अहमदगढ़, बुलंदशहर की मौत हो गई। बताया गया कि तीसरी मंजिल से मलबे का कट्टा फेंकते समय गोपाल का पैर फिसल गया और वह जमीन पर आ गिरा। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मजदूर के भाई द्वारा आरोप लगाने पर पुलिस ने ठेकेदार को हिरासत में ले लिया। पुलिस का कहना है कि तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।
बुलंदशहर के गांव बड़ा बांस अहमदगढ़ निवासी पवन का कहना है कि वह रोजीरोटी के लिए गाजियाबाद आया था। यहां आकर वह मजदूरी करने लगा। ठिकाना न होने के कारण वह नासिरपुर फाटक के पास फुटपाथ पर रहता था। पवन के मुताबिक, उसका छोटा भाई गोपाल (25) भी रोजीरोटी की तलाश में कुछ दिन पहले उसके पास आया था। वह भी उसके साथ ही फुटपाथ पर सोता था। पवन का कहना है कि रविवार को प्रशांत नाम का ठेकेदार उसके भाई गोपाल को नासिरपुर स्थित लेबर चौक से बुलाकर काम पर ले गया था। गोपाल को महिंद्रा एंक्लेव के बी-46 में रहने वाले दरोगा राजकुमार सिंह के निर्माणाधीन मकान पर लगाया गया था। राजकुमार सिंह अमरोहा के बछरायूं थाने में तैनात हैं।
पवन का कहना है कि सोमवार को भी ठेकेदार प्रशांत ने सुबह सात बजे ही गोपाल को काम पर बुला लिया था। गोपाल एक अन्य मजदूर के साथ दरोगा के मकान पर जाकर काम करने लगा था। बताया गया कि गोपाल मकान की तीसरी मंजिल से मलबे को कट्टे में भरकर फेंक रहा था। इसी दौरान उसका पैर फिसल गया और वह गिर गया। अन्य मजदूर व स्थानीय लोग मौके पर दौड़े लेकिन तब तक गोपाल की मौत हो चुकी थी। कविनगर एसएचओ नागेंद्र चौबे ने बताया कि दरोगा राजकुमार सिंह के यहां काम करते वक्त मजदूर गोपाल हादसे का शिकार हो गया। मजदूर के भाई पवन द्वारा आरोप लगाने पर ठेकेदार प्रशांत को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मामले में कोई तहरीर मिलेगी तो जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here