Disha bhoomi

वसुंधरा सेक्टर सात में इंदिरापुरम थाने के पीछे मंगलवार को दिन भर कूड़ा जलता रहा। यहां से उठ रहा धुआं वसुंधरा व इंदिरापुरम की सोसायटियों के फ्लैटों तक पहुंच रहा था। इससे लोगों का दम घुटने लगा। दिन भर लोग परेशान रहे। कई लोगों ने नगर निगम अधिकारियों को भी फोन कर कूड़ा जलने की शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। नगर निगम, दमकल विभाग या अन्य किसी ने जल रहे कूड़े को बुझाने की जहमत नहीं उठाई। वसुंधरा सेक्टर पांच ओलिव काउंटी निवासी अंजना का कहना है कि धुआं उनके फ्लैट तक पहुंच रहा था, जिससे सांस लेने में परेशानी हो रही थी। यदि ऐसे ही लापरवाही जारी रही तो जल्द ही गाजियाबाद गैस का चैंबर बन जाएगा। वहीं, नगर निगम के जोनल प्रभारी सुनील राय का कहना है कि आवास विकास परिषद के खाली प्लाट पर झुग्गियां बसी हैं। झुग्गी वाले कूड़े में आग लगा देते हैं। आवास विकास परिषद के अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। इससे पूरा प्रशासन परेशान हैं।

वहीं, दिल्ली सहारनपुर रोड स्थित ट्रानिका सिटी औद्योगिक क्षेत्र के दो नंबर गेट के पास रोड किनारे कूड़े और झाड़ियों में मंगलवार शाम अचानक आग गई। अगरोला गांव निवासी नरेंद्र बंसल का कहना है कि कूड़े और झाड़ियों में आग लगने से धुआं उठ रहा था। इससे लोगों को सांस लेने में परेशानी हुई। आस-पास के लोगों ने पानी डालकर आग बुझाई। आरोप है कि औद्योगिक क्षेत्र स्थित फैक्ट्री संचालक कूड़े को रोड किनारे फेंक देते हैं। उप जिलाधिकारी खालिद अंजुम का कहना है कि फैक्ट्री एसोसिएशन के पदाधिकारियों से वार्ता कर कूड़े को खुले में न फेंकने का निर्देश दिया जाएगा।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here