Disha bhoomi

बागपत : पटाखों से होने वाले हादसों को रोकने के लिए जिले में चेकिंग अभियान चलाया जाएगा। पुलिस-प्रशासन की टीम बागपत, बड़ौत और खेकड़ा तहसील क्षेत्र में पटाखों के निर्माताओं से लेकर भंडारण की जांच करेगी। दत्तनगर गांव में भी चेकिंग होगी। अवैध भंडारण और निर्माण मिलने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
आगरा, मेरठ के सरधना और अब सहारनपुर में पटाखों से हादसे हो चुके हैं। दिवाली का त्योहार नजदीक है। ऐसे में पटाखों की बिक्री और निर्माण बढ़ जाता है। अवैध कारोबार को रोकने के लिए पुलिस ने तैयारियां शुरू कर दी है। एसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि जिले में पुलिस चेकिंग अभियान चलाएगी। जिन स्थानों पर पूर्व में पटाखे बनते रहे हैं, उनकी जांच होगी। किसी के पास जिले में पटाखा निर्माण का लाइसेंस नहीं है। इसके बावजूद भी अगर निर्माण और बिक्री होती मिली तो कार्रवाई होगी। नियमों के विरुद्ध भंडारण करने वालों पर भी सख्ती होगी।
पटाखा निर्माण का केंद्र रहा दत्तनगर
बागपत बालैनी क्षेत्र का गांव दत्तनगर पटाखा निर्माण का केंद्र रहा है। घरों में पटाखे बनाए जाने के बाद गांव के बाहर दुकानें लगाकर बिक्री की जाती थी। पिछले साल चेकिंग में बड़ी संख्या में अवैध पटाखे पुलिस ने बरामद किए थे। एसपी अभिषेक सिंह का कहना है कि थानाध्यक्ष को अवैध पटाखा निर्माण करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं। इस साल अभी तक पटाखा निर्माण नहीं मिला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here