Dishabhomi News
Dishabhomi News

राजधानी दिल्ली में बढ़ रहे कोरोना संंक्रमण को देखते हुए नोएडा प्रशासन ने दिल्ली से आने वाले लोगों की बॉर्डर पर रैंडम टेस्टिंग शुरू कर दी है। पांच एंट्री प्वाइंट और 11 मेट्रो स्टेशनों पर जांच चल रही है। यहां रैपिड एंटीजन टेस्ट किया जा रहा है, जिसकी रिपोर्ट 8-10 मिनट में दी जा रही है।

दिल्ली में कोरोना संक्रमण के केस लगातार बढ़ने के बाद गौतमबुद्धनगर जिला प्रशासन की भी चिंता बढ़ गई है। जिलाधिकारी सुहास एलवाई ने मंगलवार की शाम को इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ आपात बैठक का आयोजन किया। इस बैठक में विभिन्न बिन्दुओं पर चर्चा करने के बाद दिल्ली बॉर्डर पर कोरोना जांच करने का निर्णय लिया गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि दिल्ली से आने-जाने वाले लोगों को कोरोना से बचाव के लिए जागरूक करने के साथ ही उनकी आकस्मिक कोविड जांच भी की जाएगी और इसमें किसी भी व्यक्ति की जांच की जा सकती है।

आकस्मिक जांच करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को टीमों का गठन करने के निर्देश दिए गए हैं और यह जांच बुधवार से प्रारम्भ हो जायेंगी। इन जांच रिपोर्ट के आधार पर ही आगे की रणनीति तय की जाएगी कि संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए क्या कड़े फैसले लिए जाने की आवश्यकता है और शासन से चर्चा के बाद कड़े फैसले लिए जायेंगे, हालांकि नोएडा-दिल्ली बॉर्डर को बंद करने की कोई योजना अभी नहीं है। इसके साथ ही जहां पर कोरोना संक्रमित व्यक्ति मिल रहे हैं, वहां पर कांट्रेक्ट ट्रेसिंग बढ़ाने और कोरोना संक्रमित व्यक्ति को उसकी हालत के अनुसार तत्काल संबंधित अस्पताल में इलाज सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए गये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here