Disha bhoomi

निगम की योजना के मुताबिक सड़कों की सफाई छह स्वीपिंग मशीनें रात में करेंगी। फरीदाबाद में करीब 1200 किलोमीटर लंबी सड़कें हैं और करीब छह सौ बड़े पार्क हैं। इन सभी पर नियमित छिड़काव की योजना है। छिड़काव के लिए प्रयास किया जाएगा कि एसटीपी का ट्रीट किया हुआ पानी उपयोग किया जाएगा। बीते वर्षों में देखने में आया है कि एक टैंकर अधिकतम छह-आठ किलोमीटर तक ही सड़क पर छिड़काव कर पाता है, ऐसे में नगर निगम को अधिक टैंकरों की आवश्यकता होगी।

एनसीआर में प्रदूषण नियंत्रण के लिए 15 अक्तूबर से ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान लागू होगा। इसके लिए नगर निगम ने भी तैयारी की है। नगर निगम ने प्रतिरात्रि में और आवश्यकता पड़ने पर दिन में भी सड़कों पर और पार्कों में पेड़-पौधों पर पानी का छिड़काव और रात्रि में ही स्वीपिंग मशीनों से सड़कों की सफाई का काम जारी रखने की योजना बनाई है। इसके अलावा कूड़ा जलाने वालों पर सख्ती बरती जाएगी। और बिजली खराबी तुरंत ठीक होगी

फरीदाबाद। बिजली कट लगने पर जेनरेटर चलाने पर पाबंदी रहेगी। इसे देखते हुए दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने फाल्ट ठीक करने के लिए अपनी कमर कस ली है। अब बिजली निगम ने पहले के मुकाबले ज्यादा तेजी से फाल्ट ठीक करने की औरयोजना बनाई है। ताकि औद्योगिक उपभोक्ताओं और सोसायटी निवासियों को ज्यादा दिक्कत न झेलनी पड़े।

कूड़ा जलाने  धूल उड़ाने पर पांच हजार जुर्माना

नगर निगम कूड़ा जलाने वालें और धूल उड़ाने वालों पर पांच हजार रुपये जुर्माना करेगा। यह जुर्माना अधिक भी हो सकता है। घनी आबादी वाले इलाके निशाने पर होंगे, क्योंकि बाजार या फिर सोसायटी जैसे स्थान खास होंगे। आरोप है कि ऐसी जगह पर कूड़ा एकत्रित होने के बाद आग लगा दी जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here