Disha Bhoomi News
Disha Bhoomi News

गाजियाबाद के नंदग्राम की आदर्श कॉलोनी के फ्लैट में गुरुवार को मिले एक अज्ञात शव की गुत्थी पुलिस ने 24 घंटे के भीतर सुलझा ली है। मृतक मुनेश यादव के दो दोस्त पैसों के लालच में उसकी हत्या कर शव फ्लैट में ही छोड़कर फरार हो गए थे। मुखबिर व सर्विलांस टीम की मदद से पुलिस ने शुक्रवार को दोनों आरोपियों को घूकना मोड़ से गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने दोनों हत्यारोपियों के पास से मृतक की पासबुक, पैन कार्ड व एटीएम कार्ड भी बरामद कर लिए हैं। क्षेत्राधिकारी नगर द्वितीय ने बताया कि सिहानी गेट थाना पुलिस ने गुरुवार को सूचना के आधार पर नंदग्राम की आदर्श नगर के एक फ्लैट में अज्ञात युवक का शव बरामद किया था। एसएसपी के निर्देश पर इस मामले की छानबीन के लिए पुलिस और सर्विलांस की टीम लगाई गई थी। उन्होंने बताया कि पुलिस जांच में पता चला कि यह अज्ञात शव मूलरूप से एटा निवासी मुनेश यादव (45 वर्ष) पुत्र नत्थू यादव का है, जो एक कंपनी में काम करता था और ब्याज पर पैसे देता था।

उन्होंने बताया कि मृतक मुनेश ने आरोपी पुष्पेंद्र यादव को पांच हजार रुपये ब्याज पर दिए थे। वहीं, मृतक मुनेश यादव आरोपी पुष्पेंद्र यादव की पत्नी से भी बातचीत करता था। साथ ही उससे संपर्क रखता था, जो पुष्पेंद्र को पसंद नहीं था। एक बार आरोपी पुष्पेंद्र मुनेश के साथ बैंक गया, तो उसे पता चला कि मुनेश के बैंक खाते में सात लाख रुपये हैं। यहीं से पुष्पेंद्र की नीयत खराब हो गई। पुष्पेंद्र यादव पुत्र अजयपाल सिंह ने अपने दोस्त रामेश्वर पुत्र महावीर सिंह के साथ मिलकर योजना बनाई। यह दोनों घूकना में ही रहते हैं। दोनों आरोपी पिछले एक माह से मुनेश यादव के पैसे हड़पने की फिराक में थे।

योजना के अनुसार, तीन दिसंबर को दोनों ने गोविंद गुप्ता नाम के व्यक्ति से उसका फ्लैट किराये पर लेने के नाम पर चाबी ले रखी थी। छह दिसंबर को दोनों आरोपियों ने मुनेश यादव को दोपहर 12 से एक बजे के बीच कमरे पर बुलाया और शराब पिलाकर करीब शाम चार पांच बजे जबर्दस्ती उसके एटीएम का पासवर्ड पूछा। मृतक के नहीं बताने पर दोनों आरोपियों ने मिलकर कपड़े से उसका गला घोंटकर हत्या कर दी और उसका पैन कार्ड, एटीएम व पासबुक लेकर फ्लैट का ताला बंदकर चले गए। साथ ही किराये के लिए मकान मालिक को दिए मोबाइल नंबर का सिम तोड़कर फेंक दिया।

आरोपियों ने मृतक के एटीएम से पैसा निकालने और पासबुक का इस्तेमाल करने का प्रयास भी किया। शुक्रवार को पुलिस टीम ने मुखबिर व सर्विसलांस की टीम की सूचना पर पुष्पेंद्र व रामेश्वर को करीब तीन बजे घूकना मोड़ से गिरफ्तार कर लिया। यह दोनों भागने की फिराक में थे। आरोपियों की निशानदेही पर उनके कब्जे से मृतक की पास बुक, एटीएम कार्ड तथा पैन कार्ड भी बरामद कर लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here