Home Business Accenture to cut 19,000 jobs amid worsening global economic outlook

Accenture to cut 19,000 jobs amid worsening global economic outlook

0
Accenture to cut 19,000 jobs amid worsening global economic outlook
Accenture layoffs- India TV Paisa
Photo:FILE Accenture ने एक ही बार में 19,000 को किया बाहर

Layoffs News: आईटी कंपनी एक्सेंचर पीएलसी ने 23 मार्च को कहा कि बिगड़ते वैश्विक आर्थिक परिदृश्य के बीच वह अपने कर्मचारियों की संख्या में 2.5 प्रतिशत या लगभग 19,000 नौकरियों में कटौती करेगी। कंपनी ने कहा है कि हम काम करना जारी रखते हैं, विशेष रूप से वित्त वर्ष 2023 की दूसरी तिमाही के दौरान कंपनी के कमाई में कमी देखी गई है। आने वाला समय कितना खराब होने वाला है, इसे देखते हुए कंपनी के आर्थिक पहलू को मजबूत बनाने की आवश्यकता है। कंपनी के बेहतर भविष्य के लिए ही यह फैसला लिया गया है। कंपनी को अब उम्मीद है कि स्थानीय मुद्रा में वार्षिक राजस्व वृद्धि 8 प्रतिशत से 10 प्रतिशत के बीच होगी, जबकि पहले यह 8 प्रतिशत से 11 प्रतिशत थी।

ग्रोथ मिल रही लेकिन उम्मीद से कम

Accenture को उम्मीद है कि वित्त वर्ष 2023 की तीसरी तिमाही के लिए राजस्व 16.1 बिलियन डॉलर से 16.7 बिलियन डॉलर के दायरे में रहेगा। इस बीच 23 मार्च को एक्सेंचर ने 28 फरवरी 2023 को समाप्त वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के वित्तीय परिणामों की सूचना दी, जिसमें 15.8 बिलियन डॉलर का राजस्व था, जो पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में अमेरिकी डॉलर में 5 प्रतिशत और स्थानीय मुद्रा में 9 प्रतिशत की वृद्धि थी। तिमाही के लिए नई बुकिंग रिकॉर्ड 22.1 बिलियन डॉलर थी, जिसमें 10.7 बिलियन डॉलर की कंसल्टिंग बुकिंग और 11.4 बिलियन डॉलर की प्रबंधित सेवाओं की बुकिंग थी।

पिछले साल ही हो गई थी छंटनी की शुरुआत

लगभग 1,046 टेक कंपनियों (बिग टेक से लेकर स्टार्टअप तक) ने पिछले साल 1.61 लाख से अधिक कर्मचारियों की छंटनी की। अकेले जनवरी में, लगभग 1 लाख तकनीकी कर्मचारियों ने वैश्विक स्तर पर नौकरी खो दी, जिसमें अमेजन, माइक्रोसॉफ्ट, गूगल, सेल्सफोर्स और अन्य जैसी कंपनियों का दबदबा था। जनवरी में 1,02,943 की तुलना में अमेरिका में कंपनियों ने फरवरी में 77,770 नौकरियों में कटौती की, आईटी कंपनियों ने छंटनी की दौड़ का नेतृत्व करना जारी रखा, पिछले महीने 21,387 नौकरियों में कटौती हुई, जो सभी कटौती का 28 प्रतिशत था।

Latest Business News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here