Disha bhoomi

गाजियाबाद: सिहानी थानाक्षेत्र में एक युवक ने 14 वर्षीय किशोरी को दरिंदगी का शिकार बना डाला, लेकिन दरोगा ने आरोपी को महज छेड़छाड़ की धाराओं में जेल भेज दिया। पीड़ित किशोरी की मां ने सोमवार को एसएचओ से गुहार लगाई, जिसके बाद दरोगा को पीड़िता के बयान के मुताबिक केस में धारा बढ़ाने के निर्देश दिए गए।
सिहानी गेट थानाक्षेत्र में रहने वाली एक महिला सोमवार को एसएचओ सिहानी गेट एसएचओ कृष्ण गोपाल शर्मा से मिली। उसने बताया कि कुछ दिन पहले एक युवक ने उसकी 14 वर्षीय बेटी के साथ दुष्कर्म किया। आरोपी ने उसे अमानवीय यातनाएं भी दीं। हत्या की धमकी देकर आरोपी मौके से फरार हो गया। जैसे-तैसे घर पहुंची उसकी बेटी ने आपबीती बताई। महिला का कहना है कि वह बेटी को लेकर दरोगा के पास पहुंचीं और सारी घटना बताई। इसके बावजूद दरोगा ने उनकी एक न सुनी और छेड़छाड़ की मनमाफिक तहरीर लिखवाकर आरोपी को जेल भेज दिया। महिला ने एसएचओ से गुहार लगाई कि उसकी बेटी के साथ की गई ज्यादती के हिसाब से केस दर्ज करने के लिए वह गुहार लगाती रही, लेकिन दरोगा को जरा भी तरस नहीं आया।

दरोगा को बुलाकर धारा बढ़ाने के दिए निर्देश
महिला की फरियाद सुनकर एसएचओ ने संबंधित दरोगा को अपने दफ्तर में बुलाया और उसके द्वारा की गई जांच के बारे में पूछा। दरोगा ने प्रेम-प्रसंग व रिश्तेदारी का मामला होने के कारण आरोप-प्रत्यारोप लगाने की सफाई दी। इस पर एसएचओ ने दरोगा को निर्देश दिए कि पीड़िता के बयान के आधार पर आरोपी के खिलाफ दर्ज मुकदमे में धाराओं की बढोतरी की जाए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here