UP Police Constable Exam Paper Leak: यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा को लेकर उठ रहा बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. रोज एग्जाम और पेपर लीक से संबंधित कोई न कोई नयी खबर सामने आ रही है. कहीं सोशल मीडिया पर पेपर लीक के दावे हो रहे हैं तो कहीं परीक्षा दोबारा कराने की मांग उठ रही है. इस बीच यूपी पुलिस प्रमोशन एंड रिक्रूटमेंट बोर्ड ने साफ किया है कि पेपर लीक की खबरें झूठी हैं. मामला यहीं नहीं थमा. हाल ही में सीएम योगी का एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें परीक्षा दोबारा कराने का आदेश दिया गया है.

क्या है इस वीडियो का सच

सोशल मीडिया और सॉफ्टवेयर्स के दुरुपयोग का सीधा उदाहरण यूपी पुलिस परीक्षा के इस मामले में देखा जा सकता है. पेपर लीक की झूठी खबरों के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी का एक वीडियो भी वायरल किया गया है जिसमें वे कह रहे हैं कि ‘पूरा पेपर निरस्त करो. पूरे गिरोह को गिरफ्तार कर लो’. इस वीडियो क सच ये है कि ये पुराना वीडियो है और इसमें कही गयी बातें यूपी पुलिस परीक्षा को लेकर नहीं बोली गई हैं.

दो साल पुराना है वीडियो

जब इस वीडियो के सच को जानने की कोशिश की गई तो सामने आया कि ये साल 2021 के नवंबर महीने में अपलोड किया गया था. ये स्टेटमेंट योगी ने यूपी टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट यानी यूपीटीईटी 2021 के पेपर लीक मामले में दिया था. इसी वीडियो को एडिट करके फिर से चलाया जा रहा है. ये बातें यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा को लेकर नहीं कहीं गई हैं. उस समय यूपीटीईटी परीक्षा में गड़बड़ी पायी गई थी और फिर से परीक्षा का आयोजन हुआ था. उस परीक्षा का वीडियो उठाकर इस संदर्भ में चलाकर लोगों के बीच भ्रांति फैलायी जा रही है.

क्या दोबारा होगी परीक्षा?

इस बारे में यूपी पुलिस रिक्रूटमेंट एंड प्रमोशन बोर्ड पहले ही कह चुका है कि जो लोग इस तरह की खबरें फैलाने की कोशिश कर रहे हैं, उनकी धर-पकड़ होगी और उन पर सख्त कार्यवाही होगी. ऐसे में परीक्षा दोबारा आयोजित होने की बात गलत है. अभी इस मामले में कोई आधिकारिक सूचना नहीं आयी है और ऐसा होने की संभावना भी कम हैं क्योंकि बोर्ड ने पेपर लीक की खबरों को झूठ बताया है. 

यह भी पढ़ें: सीयूईटी पीजी के लिए इस साल आए रिकॉर्ड 4.6 लाख रजिस्ट्रेशन

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here