yashasvi jaiswal- India TV Hindi

Image Source : GETTY
यशस्वी जायसवाल ने टारगेट पर ये 3 कीर्तिमान, रांची टेस्ट में साधेंगे निशाना

Yashasvi Jaiswal Record : भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही टेस्ट सीरीज में अब चौथे मुकाबले की बारी है। दोनों टीमें इस वक्त रांची में है, जहां 23 फरवरी से मैच खेला जाएगा। इसके लिए तैयारी तो जारी है ही, साथ ही रणनीति पर भी विचार विमर्श किया जा रहा है। रांची की पिच कैसा खेलेगी, ये पढ़ने की कोशिश भारत और इंग्लैंड की टीमें कर रही हैं। इस बीच सभी की नजर एक बार फिर से भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल पर होने वाली हैं, जो पिछले मैचों में कमाल का प्रदर्शन करते आए हैं। इस बार जब वे मैदान में उतरेंगे तो उनके निशाने पर कुछ और कीर्तिमान रहने वाले हैं, चलिए जरा उनके बारे में जानते हैं। 

जायसवाल लगा चुके हैं लगातार दो दोहरे शतक 

यशस्वी जायसवाल दुनिया के उन चुनिंदा खिलाड़ियों में शुमार हो गए हैं, जिन्होंने दो बैक टू बैक मैचों में दोहरा शतक जड़ा है। ये काम तो कुछ और बल्लेबाज भी कर चुके हैं। लेकिन सवाल ये है कि क्या जायसवाल बैक टू बैक तीसरी डबल सेंचुरी भी लगा पाएंगे। विशाखापट्टनम में खेले गए सीरीज के दूसरे मैच में यशस्वी जायसवाल ने मैच की पहली पारी में 209 रन बनाए थे। वहीं राजकोट में उन्होंने मैच की दूसरी पारी में नाबाद 214 रन बनाए थे। इससे पहले भारत के लिए ये काम विनोद कांबली और विराट कोहली ही कर पाए हैं। लेकिन दुनिया का कोई भी बल्लेबाज ऐसा नहीं है, जिसने लगातार टेस्ट में तीन दोहरे शतक लगाए हों। अगर एक बार फिर से यशस्वी जायसवाल दोहरा शतक लगाते हैं तो वे दुनिया के ऐसा करने वाले पहले बल्लेबाज बन जाएंगे। 

एक सीरीज में तीन दोहरे शतक की उम्मीद 

अगर एक सीरीज में तीन दोहरे शतक लगाने वाले बल्लेबाज की बात की जाए तो ये काम जरूर इससे पहले हुआ है। साल 1930 में सर डॉन ब्रेडमैन ने ये काम किया था। इसके बाद से अब तक इतने साल गुजर गए, लेकिन कोई भी बल्लेबाज ये काम नहीं कर पाया है। यशस्वी जायसवाल के पास मौका है कि वे रांची में नहीं तो आखिरी टेस्ट में भी अगर दोहरा शतक पूरा कर लेते हैं तो डॉन ब्रेडमैन के बाद ऐसा करने वाले दूसरे बल्लेबाज बन जाएंगे। 

टेस्ट में एक हजार रन से कुछ ही दूर 

जायसवाल ने अब तक अपने टेस्ट करियर के दौरान सात मुकाबले खेले हैं। इसमें वे 861 रन बना चुके हैं। यानी उन्हें एक हजार रन पूरे करने के लिए महज 139 रन और चाहिए। अगर अगले मैच में वे इतने ही रन और बना लेते हैं तो विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में सबसे तेज 1000 रन बनाने वाला बल्लेबाज बनने का भी मौका उनके पास रहेगा। इतना ही नहीं, वे भारत के लिए टेस्ट में सबसे तेज 1000 रन और दुनिया के दूसरे नंबर के बल्लेबाज बन जाएंगे। यानी उनके पास बहुत सारे मौके होंगे, लेकिन देखना ये होगा कि वे कौन सा रिकॉर्ड तोड़ते हैं। 

इंडिया टीवी पर खेल की ये खबरें भी पढ़ें 

IPL 2024 का शेड्यूल आज आएगा सामने, जानें कब और कहां देख सकेंगे इसे LIVE

IPL 2024 का शेड्यूल आज आएगा सामने, रांची की पिच पर स्टोक्स का बयान, देखें खेल की 10 बड़ी खबरें

Latest Cricket News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here