Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

समाजसेवा में अग्रणी रहनें वाली मोदीनगर की प्रमुख सामाजिक संस्था निष्काम सेवक जत्थे द्वारा सिक्ख धर्म के प्रथम गुरू श्री गुरू नानक देव जी का प्रकाश उत्सव एक अनूठे अंदाज में मनाया गया। जिसमें नाम बाणीं, गुरमत विचार, शबद कीर्तन के साथ-साथ एक ऐसा कदम उठाया गया जिसनें सभी के दिलों को भावुक कर दिया। कोरोना काल में अपनी कार्यशैली से प्रदेश स्तर तक नाम रोशन करनें वाली निष्काम संस्था नें अपनें प्रथम गुरू के जन्मोत्सव का पवित्र दिन एक और ऊंची व पवित्र सोच के नाम कर दिया।

Disha Bhoomi
Disha Bhoomi
Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

संस्था के अध्यक्ष जसमीत सिंह ने विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना आपदा के चलते इस बार निष्काम सेवक जत्थे नें गुरु नानक देव जी का जन्मदिवस मानवता की सेवा को समर्पित करनें का निर्णय लिया जिसके चलते गुरू नानक देव जी के जन्मोत्सव पर निष्काम संस्था के सभी सदस्यों द्वारा हर वर्ष होनें वाले अपना मुख्य आयोजन इस बार रद्द करनें का फैसला लिया गया तथा उसके बदले मोदीनगर में दुर्घटनाओं के कारण चोटिल हुए व्यक्तियों के लिए व्हीलचेयर खरीदकर निष्काम के बेङे में शामिल कर कठिन घङी में जरूरतमंद लोगों की सेवा के लिए उपलब्ध कराने का निर्णय लिया। निष्काम संस्था नें वरिष्ठ लोगों के हाथों इन व्हीलचेयर का उद्घाटन कराया।

Disha Bhoomi
Disha Bhoomi
Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

इस पुण्य कार्य में संस्था के संरक्षक व वरिष्ठ समाजसेवी श्री चानन लाल ढींगरा नें भी एक व्हीलचेयर भेंट करते हुए निष्काम परिवार की हिम्मत बढानें का काम किया। इसी कङी में आज निष्काम सेवक जत्थे की तरफ़ से संस्था के मुख्य सदस्य मोन्टू छाबङा के निवास स्थान पर विशेष नाम सिमरन का आयोजन कर इस प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया गया। जसमीत सिंह के अनुसार निष्काम संस्था द्वारा अभी तीन व्हीलचेयर के साथ इस प्रोजेक्ट की शुरूआत की गयी है लेकिन जरूरत के अनुसार और व्हीलचेयर भी बढा दी जायेगी। निष्काम धर्म प्रचार कमेटी के प्रधान अरविंद सिंह ने बताया कि आकस्मिक चोट लगनें या अन्य किसी बङी परेशानी के समय यह व्हीलचेयर कोई भी जरूरतमंद व्यक्ति एक सीमित समय यानिं की स्वस्थ होनें तक इस्तेमाल करनें के लिए निष्काम संस्था से पूर्णत नि:शुल्क ले सकतें है।

इस अवसर पर निष्काम परिवार द्वारा गुरू का अटूट लंगर व मिष्ठान संगत में बांट कर गुरू नानक देव जी के जन्मोत्सव की भरपूर खुशियां मनाई गई। कार्यक्रम में आये लोगों द्वारा निष्काम की इस अनूठी सेवा की मुक्त कंठ से सराहना की गई तथा कहा गया कि निष्काम परिवार हमेशा एक अलग ही सोच के साथ अपनी भूमिका को सामनें लाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here