Disha Bhoomi

मोदीनगर के ऐतिहासिक बेगमाबाद के गांव के दर्जनों किसानों की भूमि पर नगर पालिका मोदीनगर ने अवैध तरीके से कूड़ा डाल कर उनकी भूमि को डंपिंग ग्राउंड बना दिया है हद तो इस बात की है की 1983 में उनकी भूमि पर नगर पालिका द्वारा नालों का कुछ पानी छोड़ दिया था जिसे उस समय किसानों ने गंभीरता से नहीं लिया और जब आज हालात बद से बदतर हो चुके हैं तो नगर पालिका मोदीनगर आज किसानों को गंभीरता से नहीं ले रही है किसानों की लगभग 400 बीघा जमीन पर तालाब बन चुका है जिसकी वजह से उनकी भूमि कृषि योग्य नहीं रही है और बेगमाबाद के अन्नदाता भुखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं यहां के किसानों के पास भूमि तो है लेकिन वह उसमें खेती नहीं कर सकते क्योंकि उनकी भूमि पर शहर से निकलने वाला कूड़ा और शहर के सारे बड़े नालो ने उनकी भूमि को तालाब बना कर रख दिया है वह अपनी शिकायतें लेकर सभी पार्टियों के नेताओं के पास डीएम एसडीएम के पास समाधान दिवस में और ना जाने कहां-कहां अपनी गुहार लगा चुके हैं लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है लेकिन आज भी उन बूढ़े किसानों की आंखों में उम्मीद की एक किरण अभी भी बाकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here