Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

Ghaziabad : जिले में बुखार से पीड़ित 50 मरीजों की जांच रिपोर्ट आई, जिनमें दो बच्चों समेत सात मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है, तीन मरीजों को भर्ती किया गया है। चार मरीज मुरादनगर के रावली कला, छज्जूपुर, ब्रिजविहार और पुरकुर्सी गांव के हैं। तीन मरीज विवेकानंदनगर, चौपला मंदिर और कैलाशनगर के हैं। इस समय सरकारी में 22 और प्राइवेट में 12 मरीज भर्ती हैं।
एक हजार से अधिक बुखार के मरीजों की नहीं हुई जांच
जिला एमएमजी अस्पताल और संयुक्त अस्पताल में आने वाले बुखार के मरीजों की डेंगू जांच नहीं की जा रही है। पांच दिन में एक हजार से अधिक बुखार के मरीजों का सैंपल तक नहीं लिया गया। इस समय सिर्फ 50 सैंपलों की जांच की जा रही है। निजी अस्पतालों के सैंपलों की जांच पर भी केस बढ़ने के डर से रोक लगा दी गई है। दोनों सरकारी अस्पतालों में प्रतिदिन बुखार के डेढ़ हजार मरीज पहुंच रहे हैं। बृहस्पतिवार को ओपीडी में 2010 मरीजों में से 490 बुखार के मरीज पहुंचे थे। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. आरके गुप्ता का कहना है कि जिन मरीजों में डेंगू के लक्षण होते हैं और डॉक्टर जांच कराने की सलाह देते हैं, उन सभी मरीजों की जांच की जा रही है। जरूरी नही है कि हर बुखार के मरीज की डेंगू जांच की जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here