Disha Bhoomi

संसद द्वारा पारित तीनों कृषि कानूनों का किसान विरोध कर रहे हैं। इसी सिलसिले में आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर ट्रैक्टर परेड निकाले जाने हैं। हालांकि इससे पहले ही किसानों ने कई जगहों पर बैरिकेड्स तोड़ दिए हैं। लोनी बॉर्डर पर भी किसानों और पुलिस के बीच कहासुनी हुई। बागपत शामली की तरफ से आ रहे किसानों के ट्रैक्टरों को लोनी पुलिस ने लोनी तिराहे पर रोकने का प्रयास किया। अधिकारी ट्रैक्टरों को टीला मोड होते हुए यूपी गेट भेजने का प्रयास कर रहे थे लेकिन किसान सीधा बॉर्डर पर जाने की जिद पर अड़े थे।

करीब दो घंटे की जद्दोजहद के बाद किसानों को सीधा दिल्ली बॉर्डर जाने दिया गया। दिल्ली बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस ने बैरिकेड्स लगा रखे थे जिन को तोड़कर किसान दिल्ली सीमा में प्रवेश कर गए।

सोमवार शाम करीब 6:00 बजे किसानों के सैकड़ों ट्रैक्टर ट्रॉली बागपत शामली की ओर से लोनी आना शुरू हो गए थे। लोनी तिराहे पर पुलिस ने किसानों को रोक लिया और उन्हें टीला मोड़ की ओर गाजियाबाद रोड पर डाइवर्ट करने का प्रयास करने लगे लेकिन किसान सीधा दिल्ली सहारनपुर हाईवे से दिल्ली जाने की जिद पर अड़ गए। जिसको लेकर पुलिस प्रशासन एवं किसानों के बीच कहासुनी भी होने लगी।

घंटों की जद्दोजहद के बाद किसान सीधा दिल्ली की ओर बढ़ गए। दिल्ली बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाकर किसानों को रोकने का प्रयास किया लेकिन किसान दिल्ली पुलिस के बैरिकेड तोड़ दिल्ली में प्रवेश कर गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here