Disha bhoomi

साहिबाबाद : खोड़ा थाना क्षेत्र की नेहरू गार्डन कालोनी में किराये के मकान में रहने वाले माल वाहक वाहन के चालक ने बृहस्पतिवार सुबह करीब 11 बजे चार साल की बेटी को गला दबाकर मार डाला। सात घंटे तक शव को गाड़ी में रखकर गाजियाबाद व नोएडा में घूमता रहा। शाम करीब छह बजे गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने उसे नोएडा सेक्टर-11 में दबोचा और खोड़ा थाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया।

मूल रूप से बेगराजपुर कूरेभार जिला सुल्तानपुर का रहने वाला वासुदेव गुप्ता यहां नेहरू गार्डन में पत्नी व दो बच्चों के साथ रहता था। पुलिस के अनुसार, उसकी पत्नी स्पा सेंटर में काम करती थी। करीब 20 दिन पहले वह तीन साल के बेटे प्रियांशु को लेकर कहीं चली गई। चार साल की बेटी आदिति उसके पास थी। बृहस्पतिवार सुबह करीब 11 बजे आदिति मां और भाई को याद कर रो रही थी। वासुदेव ने उसे चुप कराने का प्रयास किया, लेकिन वह रोती रही। गुस्से में आकर उसने उसका गला दबा दिया, जिससे उसकी मौत हो गई।

आदिति के शव को उसने गाड़ी में अपनी सीट के बगल रख लिया और पत्नी को ढूंढ़ने निकल पड़ा। वह गाजियाबाद व नोएडा में पत्नी को ढूंढ़ता रहा। शाम करीब पांच बजे पांच बजे नोएडा सेक्टर-11 में रहने वाला उसका छोटा भाई रवि नेहरू गार्डन पहुंचा तो वासुदेव नहीं मिला। उसने पुलिस कंट्रोल रूम में काल कर उसके लापता होने की सूचना दी। काल नोएडा पुलिस को लगी। उसके बताए हुलिया के अनुसार नोएडा पुलिस ने छानबीन शुरू की। शाम करीब छह बजे गौतमबुद्ध नगर की सेक्टर-24 थाना पुलिस ने उसे नोएडा सेक्टर-11 में स्वामी फर्नीचर के पास पकड़ा। उसे थाना लाकर पूछताछ की तो उसने घटना की पूरी जानकारी दी। हत्या खोड़ा में होने के कारण सेक्टर-24 पुलिस ने खोड़ा थाना से संपर्क किया। आरोपित वासुदेव व आदिति के शव को खोड़ा थाना पुलिस को सौंप दिया।

खोड़ा पुलिस ने शुरू की छानबीन : खोड़ा थाना प्रभारी निरीक्षक मुहम्मद असलम ने बताया है कि आदिति के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। घटना स्थल से साक्ष्य जुटाए जा रहे हैं। आरोपित पिता वासुदेव से पूछताछ की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here