disha bhoomi
disha bhoomi

 Jaipur IPL के 15वें सीजन में राजस्थान रॉयल्स इतिहास दोहराने की दहलीज पर है। टीम खिताब की सबसे मजबूत दावेदार बन गई है। टूर्नामेंट के लीग मैच में शानदार परफॉर्मेंस की बदौलत राजस्थान रॉयल्स 14 साल बाद फाइनल की दौड़ में है। अब राजस्थान रॉयल्स IPL के फाइनल मुकाबले से एक कदम दूर है। अगर राजस्थान प्ले ऑफ का पहला मैच जीतती है तो सीधे फाइनल में जाएगी। अगर हार जाती है तो भी फाइनल में जाने के लिए एक और मौका मिलेगा। वहीं, इस बार ऑरेंज और पर्पल दोनों कैप पर राजस्थान का ही कब्जा है।
प्लेऑफ में पहुंची 4 टीम
IPL के 15वें सीजन में राजस्थान, गुजरात, लखनऊ और बैंगलोर की टीम प्लेऑफ में पहुंच चुकी हैं। 24 मई से प्लेऑफ के मुकाबले शुरू हो रहे हैं, जिसमें राजस्थान और गुजरात को पूरे सीजन में अच्छा प्रदर्शन करने का फायदा मिलेगा। पॉइंट टेबल में टॉप 2 पर रहे की वजह से इन टीमों के पास फाइनल में पहुंचने के दो मौके हैं। वहीं, आरसीबी और लखनऊ में से जो जीतता है उसे फाइनल में पहुंचने के लिए एक और मैच जीतना होंगा।
टूर्नामेंट के लीग मैच में अपना आखिरी मैच जीतकर पॉइंट टेबल में दूसरे स्थान पर आई राजस्थान के लिए फाइनल में पहुंचना ज्यादा मुश्किल नहीं है। क्योंकि राजस्थान पहले क्वालीफायर में गुजरात से भिड़ेगी। अगर राजस्थान यह मैच जीतती है, तो सीधे फाइनल में जगह बनाएगी। जबकि हारने पर राजस्थान को आरसीबी या लखनऊ से फाइनल में पहुंचने के लिए एक और मैच खेलना होगा।
राजस्थान इसलिए जीत की प्रबल दावेदार
राजस्थान रॉयल्स इस बार IPL की सबसे मजबूत टीमों में से एक है। टीम के पास युजवेंद्र चहल, आर अश्विन और केसी करियप्पा जैसे स्पिनर्स मौजूद हैं। इनमें से चहल और अश्विन टीम इंडिया के लिए टी-20 क्रिकेट में लीडिंग विकेट टेकर्स भी हैं। वहीं, केसी करियप्पा भी इस फॉर्मेट के अच्छे गेंदबाज माने जाते हैं। चहल का IPL में प्रदर्शन भी कमाल का रहा है। वहीं, अश्विन गेंदबाजी के साथ-साथ बल्लेबाजी में भी अपना कमल दिखा रहे है। प्रसिद्ध कृष्णा और नवदीप सैनी इस बार शानदार परफॉर्म कर रहे हैं। वहीं ओबेड मकॉय भी मिड ओवर में किफायती गेंदबाजी कर मैच को टीम के पक्ष में कर चुके है।
राजस्थान रॉयल्स की बल्लेबाजी इस बार विरोधी टीम के लिए परेशानी का कारण बानी है। टीम के पास बटलर, सैमसन, देवदत्त पडिकल, यशस्वी जायसवाल, शिमरोन हेटमायर, करुण नायर और रैसी वान डेर डूसेन, रियान पराग शानदार बल्लेबाजी की है। जिन्होंने लीग मैच में अपने शानदार परफॉमेंस की बदौलत टीम को प्लेऑफ में पहुंचाया है। इस से पहले हमेशा राजस्थान की टीम 2 से 3 बैट्समेन पर निर्भर रहती थी। इस सीजन में टीम के सभी बैट्समेन ने अपना योगदान देकर टीम को जिताया है। जिसमें बटलर, सैमसन, देवदत्त पडिकल, यशस्वी जायसवाल, शिमरोन हेटमायर, रियान पराग के साथ अश्विन भी शामिल है।
संगकारा-मलिंगा ने टीम में भरा जोश
कुमार संगकारा और लसिथ मलिंगा का राजस्थान रॉयल्स में होना टीम के लिए सबसे बड़ा प्लस पॉइंट बनकर सामने आया है। लीग शुरू होने से एक महीने पहले ही संगकारा और मलिंगा दोनों ही टीम के साथ लगातार प्रैक्टिस सेशन में जुटे रहे। यही वजह है कि इस बार इंटरनेशनल प्लेयर्स के साथ घरेलू खिलाड़ी भी लीग में शानदार परफॉर्म कर रहे हैं।
वहीं, दोनों की मौजूदगी ने पिछले सालों में दबाव में दिखने वाली राजस्थान टीम इस बार मैदान और मैदान से बहार दोनों जगह कॉन्फिडेंट नजर आ रही है। जिसका असर IPL में टीम की परफॉमेंस पर भी नजर आ रहा है।
प्लेऑफ का शेड्यूल
पहला क्वालीफायर – राजस्थान रॉयल्स – गुजरात टाइटंस, 24 मई, ईडन गार्डन्स कोलकाता
एलिमिनेटर – रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर – लखनऊ सुपर जाएंट्स, 25 मई, ईडन गार्डन्स कोलकाता
दूसरा क्वालीफायर – एलिमिनेटर की विजेता बनाम पहले क्वालीफायर की विजित, 27 मई, नरेंद्र मोदी स्टेडियम, अहमदाबाद
फाइनल – पहले क्वालीफायर की विजेता बनाम दूसरे क्वालीफायर की विजेता, 29 मई, नरेंद्र मोदी स्टेडियम, अहमदाबाद
IPL के 15वें सीजन में ऑरेंज और पर्पल कैप पर अब तक राजस्थान के खिलाड़ियों का कब्जा बरकरार है। राजस्थान के सलामी बल्लेबाज जोस बटलर इस सीजन के सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बने हुए हैं। इसके साथ ही राजस्थान के स्पिनर युजवेंद्र चहल इस बार के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं।
टूर्नामेंट के दौरान पर्पल कैप की रेस में चहल जरूर एक-दो बार पीछे हुए हैं, लेकिन ऑरेंज कैप के मामले में बटलर को अब तक इस सीजन में कोई भी बल्लेबाज नहीं पछाड़ पाया है। ऐसे में दोनों खिलाड़ी अब टीम के साथ कलकत्ता पहुंच टीम को फाइनल में पहुंचने की तैयारियों में जुट गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here