Disha bhoomi

दिल्ली-मेरठ हाईवे  पिछले करीब डेढ़ माह से दिल्ली-मेरठ हाईवे पर जाम की स्थिति भयावह है। अतिक्रमण और अवैध पार्किंग जाम का बड़ा कारण है। वहीं जल निगम की ओर से डाली जा रही सीवरेज पाइपलाइन तथा एनसीआरटीसी द्वारा कराए जा रहे निर्माण कार्य भी यातायात के सफल संचालन को प्रभावित कर रहे हैं। लगातार इसे लेकर आवाज उठाई जा रही थी, लेकिन अधिकारी बेफिक्र बने थे। अब एसडीएम मोदीनगर आदित्य प्रजापति ने इस समस्या पर ध्यान दिया है। उन्होंने नगरपालिका, ट्रैफिक पुलिस, जल निगम,एनसीआरटीसी, मोदीनगर मुरादनगर की पुलिस व व्यापार मंडल के पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है।

दिल्ली-मेरठ हाईवे पर लगातार लगने वाले जाम की स्थिति में सुधार की उम्मीद जगी है। एसडीएम ने ट्रैफिक पुलिस, नगरपालिका, जल निगम, एनसीआरटीसी समेत तमाम विभागों की बुधवार को बैठक बुलाई है। इसके लिए विभागीय अधिकारियों को लिखित सूचना भी भेज दी गई है। व्यापार मंडल के पदाधिकारियों को भी बैठक में शामिल होने के लिए सूचना भेजी गई है। इसमें जाम से निपटने को लेकर सुझाव मांगे जाएंगे। साथ ही जाम के कारणों पर मंथन कर इन्हें दूर करने की योजना तैयार होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here