Disha bhoomi

गाजियाबाद। विश्वासनगर सिहानी गांव में पति से नाराज पूनम (28) ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पीआरवी ने विवाहिता को फंदे से उतारकर अस्पताल भिजवाया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। ससुराल पक्ष के लोग पूनम द्वारा आत्महत्या करने की बात कह रहे हैं तो वहीं मायका पक्ष ने हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस का कहना है कि मृतका के परिजन अलीगढ़ से गाजियाबाद के लिए रवाना हो गए हैं। जो वह तहरीर देंगे, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल मृतका के पति व ससुर को हिरासत में ले लिया गया है।
पुलिस के मुताबिक, मूलरूप से अलीगढ़ निवासी पूनम की शादी करीब दो साल पहले सिहानी गांव निवासी जितेंद्र से हुई थी। शादी के बाद उसकी एक साल की बेटी है। बताया गया कि करीब 20 दिन पहले उसका किसी बात पर पति से विवाद हो गया था। बात इतनी बढ़ गई थी कि दोनों में बोलचाल भी बंद हो गई थी। ससुराल पक्ष के लोगों का कहना है कि करवा चौथ के चलते पति जितेंद्र ने पूनम को मनाने की कोशिश की। उसकी इच्छा के मुताबिक खरीदारी करने के लिए भी जितेंद्र तैयार हो गया था। बुधवार को पूनम ने करवा चौथ का व्रत भी रखा था लेकिन किसी बात पर फिर से विवाद हो गया। सिहानी गेट एसएचओ कृष्ण गोपाल शर्मा के मुताबिक, पूछताछ में जितेंद्र ने बताया कि शाम वक्त बेटी लगातार रो रही थी। उसने कमरे मे जाकर देखा तो होश उड़ गए। पूनम फंदे पर लटकी हुई थी। उसने पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद मौके पर पहुंची पीआरवी ने पूनम को फंदे से उतारकर अस्पताल भिजवाया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।
रिश्तेदारों ने किया हंगामा
पूनम की मौत की सूचना जैसे ही अलीगढ़ मायके में पहुंची तो चीख-पुकार मच गई। परिजनों ने स्थानीय रिश्तेदारों को मौके पर भेजा, जिन्होंने हत्या का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया। मायका पक्ष का आरोप है कि ससुराल पक्ष के लोग दहेज की खातिर पूनम को प्रताड़ित करते थे। मांग पूरी न होने पर पूनम की हत्या कर शव फांसी पर लटका दिया। एसएचओ का कहना है कि मायके वाले गाजियाबाद आ रहे हैं। जो वो तहरीर देंगे, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here