Disha Bhoomi
Disha Bhoomi

सिरफिरा युवक दबे पांव घर में घुसा, वहीं से चाकू उठाकर सोती युवती पर वार किया और चला गया  एक तरह की दो सनसनीखेज वारदात महाराजपुर गांव में 26 घंटे के भीतर हुई हैं। दोनों में हमलावर शाम चार से छह के बीच आया। न कोई सामान लूटा और न ही कुछ बोला। बृस्पतिवार को सिर पर वार किया था वारदात के तरीके से पुलिस उसे सिरफिरा अपराधी मान रही है। उसके फिर से हमले से डर में गांव में गश्त बढ़ा दी गई है। मखदूम आलम की पत्नी हसनुमा खातून शुकरवार को शाम साढ़े पांच बजे उसके हमले का शिकार बनीं। उन्होंने बताया, वह सो रही थीं। बच्चे खेल रहे थे। तभी कोई घर के अंदर घुसा। आंख खुलने से पहले ही उसने चाकू से चेहरे पर वार कर दिया। उनका गाल कट गया। वह चिल्लाई तो सिरफिरा भाग गया। उन्होंने लिंक रोड थाना पर केस दर्ज कराया है। असलम ने बताया, बच्चे घर में खेल रहे थे। शहनाज की आंख लग गई थी। तभी हमलावर आया और घर से ही चाकू उठाकर उस पर वार किया। चाकू उसके सिर में घुस गया। हमलावर इसके बाद भाग गया। पत्नी के सिर पर ढाई इंच का घाव हुआ, टांके लगे हैं।एसपी सिटी ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि दोनों वारदात एक ही युवक ने की हैं।  फुटेज से तस्वीर बनवाएंगे।

साहिबाबाद। पहली घटना के बाद ही पुलिस को सीसीटीवी फुटेज मिल गया था। सिरफिरे के हमले का शिकार महिला ने रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी। इसके बावजूद पुलिस ने हमलावर को पकड़ने की कोशिश नहीं की। नतीजा यह हुआ है कि महाराजपुर में 250 मीटर के दायरे में लगातार दूसरे दिन वारदात हो गई। इसके बाद आला अफसर भी हरकत में आए। अगर पहली वारदात के बाद ही गांव में पुलिस लगाई गई होती तो दूसरी बच सकती थी। अगर हमलावर आता तो पकड़ा भी जा सकता था। दोनों घटनाएं जिन घरों में हुई हैं, वे संकरी गली में है। सिरफिरा सरेशाम वारदात कर रहा है। इस दौरान बच्चे घरों के बाहर खेलते रहते हैं लेकिन वह न तो किसी को वारदात करने जाते नजर आया और न ही करके जाते हुए या फिर हो सकता है कि किसी ने इस पर ध्यान न दिया हो। अब लोग चौकन्ना हो गए हैं। पीड़ित असलम ने बताया कि पत्नी के उपचार के खर्च के लिए उन्हें रुपयों की जरूरत पड़ी तो अपने भाई और दोस्त से मदद मांगी। एसएचओ लिंकरोड ने बताया कि उनसे संदिग्ध का फोटो दिखाकर पूछताछ की गई थी।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here